किराने और गैस के लिए जमावड़ा, छोटे कारोबारी बेपरवाह

Spread the love

रायपुर
पूरे देशभर में लॉकडाउन घोषित करने के बाद आज रायपुर की सडकों पर सन्नाटा सा पसरा रहा और अधिकांश लोग अपने-अपने घरों में बंद रहे। चौक-चौराहों पर पुलिस के जवान कहीं-कहीं बेरीकेड्स लगाकर अतिआवश्यक सेवाओं  से जुड़े व अन्य आने-जाने वाले लोगों से पूछताछ-जांच करती रही। देश-दुनिया में फैल रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोग अब खुद ही अपने घरों में एक-दूसरे से कुछ दूरी बनाकर चल रहे हैं। पास-पड़ोस के लोग भी एक-दूसरे के घर आना-जाना लगभग बंद कर दिए हैं। दूसरी तरफ कई लोग कोरोना से बचाव करते हुए अपने घरों की सफाई करते हुए सेनेटाइज करने में जुटे हैं, ताकि महामारी का खतरा कम रहे।

दूसरी तरफ शहर की किराना दुकानों में सुबह से भीड़ लगी रही। शासन-प्रशासन की हिदायत के बाद भी कई लोग महीनेभर का राशन लेने वाले वहां पहुंचते रहे। मोतीबाग के सामने स्थित एक गैस एजेंसी में भी काफी भीड़ लगी रही। होम डिलवरी न कराने वाले लोग एजेंसी तक पहुंच कर घरेलू गैस की बुकिंग कराते रहे। इसमें कई लोग बिना मास्क लगाए भीड़ में खड़े रहे और वहां संक्रमण का खतरा बना रहा। बाद में कुछ पुलिस वालों ने वहां पहुंचकर वहां से भीड़ को हटाया। उन्हें हिदायत दी कि शहर में कर्फ्यू लगा है और कहीं भी भीड़ नहीं लगाना है। ऐसे में घरेलू गैस की बुकिंग के लिए पहुंचे लोग बंद के चलते चिंतित रहे।

शास्त्री बाजार में सब्जी वाले बिना मास्क लगाए सब्जी बेचने में लगे रहे, जबकि वहां पहुंच रहे अधिकांश ग्राहक मास्क लगाए हुए थे। ऐसे में वहां भी संक्रमण का डर बना हुआ था। हालांकि मौके पर तैनात पुलिस जवान उन्हें बार-बार कार्रवाई की हिदायत देते रहे, पर वे लोग उसे अनसुना कर सब्जी बेचने में लगे रहे। मास्क न लगाने पर सब्जी लेने वाले कई ग्राहक उन लोगों से पर्याप्त दूरी बनाकर भी रखे हुए थे। इसी तरह फल, दूध की दुकानों में भी भीड़ बनी रही। लोग इन सभी जगहों पर औने-पौने दाम पर सामान खरीदकर अपने घरों की ओर बढ़ते रहे। कुछ जगहों पर तैनात पुलिस ने भीड़ तो तितर-बितर करने का प्रयास भी किया।