कोराना बना सात फेरों में बाधा, डिप्टी कलेक्टर ने टाली अपनी शादी

Spread the love

रायपुर

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए भारत सरकार ने देश में 21 दिन का लॉकडाउन लगाया है. इसी के साथ देश मानो थम-सा गया है, हर कोई अपने घरों में कैद है. इस लॉकडाउन का असर लोगों की आम जिंदगी पर भी पड़ रहा है. छत्तीसगढ़ के रायपुर की डिप्टी कलेक्टर शीतल बंसल ने कोरोना वायरस की महामारी के चलते अपनी शादी टालने का फैसला लिया है और एक उदाहरण तय करने की कोशिश की है.

डिप्टी कलेक्टर शीतल बंसल और इंडियन फोरेस्ट सर्विस अफसर आयुष गुरुवार यानी 26 मार्च के दिन शादी के बंधन में बंधने वाले थे, लेकिन अब इसे आगे बढ़ा दिया गया है और वजह बना है कोरोना वायरस.

शीतल बंसल ने बताया कि अगर वह अपने शादी के कार्यक्रम को जारी रखते तो समाज के सामने एक गलत उदाहरण पेश होता, क्योंकि सभी को इस वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा जा रहा है. शीतल बंसल इन दिनों अभनपुर जनपद पंचायत में मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर पदस्थ हैं.

बता दें कि दोनों की शादी की पूरी तैयारियां हो चुकी थीं, कार्ड छप गए थे, नया जोड़ा तैयार था लेकिन कोरोना वायरस के चलते लगे इस लॉकडाउन ने सबकुछ टलवा दिया. गौरतलब है कि भारत सरकार के द्वारा जो लॉकडाउन लगाया गया है उसके तहत एक जगह भीड़ इकट्ठा करना या फिर बाहर निकलने पर मनाही है.

गृह मंत्रालय ने जो गाइडलाइन जारी की हैं, उनके मुताबिक किसी तरह का कार्यक्रम या सार्वजनिक कार्यक्रम इस दौरान नहीं किया जा सकता है. सिर्फ अगर किसी की मृत्यु होती है तो अंतिम संस्कार की इजाजत दी जा सकती है. नेशनल लॉकडाउन के अलावा कई राज्य सरकारों ने अपने क्षेत्र में धारा 144 भी लगाई है.

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस का अभी तक सिर्फ एक ही मामला सामने आया है, जबकि पूरे देश में ये संख्या 600 के पार चली गई है. भारत में अबतक कोरोना वायरस की वजह से 12 लोगों की मौत हो गई है.