कोरोना से फाइट के लिए स्वास्थ्य विभाग को मिला फ्री-हैंड, तत्काल होंगी नई नियुक्तियां

Spread the love

भोपाल
मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण (COVID19) से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग को फ्री-हैंड दिया जा रहा है. अब स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की सिफारिश पर कलेक्टर जिले में डॉक्टर्स, नर्स सहित अन्य स्टाफ की तत्काल अस्थायी नियुक्ति कर सकेंगे.

मध्य प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत डॉक्टर, नर्स, हेल्पर और एएनएम के पदों पर तीन माह के लिए अस्थाई नियुक्ति का अधिकार मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिला स्‍वास्‍थ्‍य समिति को दे दिया है. लेकिन, इन नियुक्तियों में कलेक्टर की मंजूरी ज़रूरी है. इन सभी पदों पर अस्थाई नियुक्ति की जाएगी. भविष्‍य में जरूरत के अनुसार इसे कार्यकाल को बढ़ाया जा सकेगा.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संचालक ने बताया कि केंद्रीय स्तर पर मौजूदा हालात में इस तरह की नियुक्तियां संभव नहीं हैं. समय और वर्तमान हालात को देखते हुए कोरोना वायरस से निपटने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को ये अधिकार दिया गया है, ताकि स्टाफ की कमी आड़े ना आए. निजी हॉस्पिटल या नर्सिंग होम में काम कर रहा जो भी स्टाफ यहां काम करना चाहे उसे नियुक्त किया जा सकता है.

इन नियुक्तियों में पैरा मेडिकल कोर्स के उन स्टूडेंट्स को भी मौका दिया जाएगा जिनका फायलन का रिजल्ट आना बाकी है. यह सभी नियुक्तियां कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए अस्थाई रूप से 3 माह के लिए दी जा रही हैं.