देवेगौड़ा संसद में कर सकते है वापसी ,कांग्रेस करेंगी देवेगौड़ा का समर्थन

Spread the love

नई दिल्ली
पूर्व प्रधानमंत्री और जनता दल सेकुलर (जेडीएस) के सुप्रीमो एच डी देवेगौड़ा की फिर से संसद में वापसी हो सकती है। आगामी राज्य सभा चुनावों में भाजपा को कर्नाटक से एक अतिरिक्त सीट हासिल करने से रोकने के लिए कांग्रेस देवेगौड़ा को सपोर्ट करने के लिए तैयार है।

कांग्रेस का राज्य में एक सीट जीतना तय है और इस पर उसने अपने दिग्गज नेता मल्लिकार्जुन खडगे को उतारने की घोषणा की है। खडगे पिछली लोकसभा में कांग्रेस के नेता थे लेकिन पिछला आम चुनाव हार गए। कांग्रेस इस चुनावों में कर्नाटक में केवल एक ही सीट जीत पाई थी। इसके बाद राज्य में कांग्रेस और जेडीएस की सरकार भी गिर गई थी। बड़ी संख्या में कांग्रेस के विधायकों के इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने से जेडीएस की अगुआई वाली गठबंधन सरकार का गिरी थी।

खडगे की सीट पक्की
खडगे संसद के ऊपरी सदन में भेजने के बाद भी कांग्रेस के पास 14 वोट होंगे। पार्टी सूत्रों का कहना है कि इसका इस्तेमाल भाजपा को रोकने के लिए किया जाएगा। उनके मुताबिक जेडीएस के साथ संभावित करार के लिए स्वीकार्य उम्मीदवार या देवेगौड़ा सबसे अच्छे विकल्प हो सकते हैं।

माना जा रहा है कि जेडीएस ने अब तक इस बारे में कांग्रेस से संपर्क नहीं साधा है लेकिन एक सूत्र के मुताबिक इस मुद्दे पर दोनों पार्टियों के बीच अनौपचारिक बातचीत चल रही है। राज्य से किसी दूसरे गैर-भाजपाई उम्मीदवार को राज्य सभा भेजने के लिए कांग्रेस और जेडीएस के पास पर्याप्त वोट होंगे।

अगर कांग्रेस और जेडीएस के बीच बात बनती है तो इससे राज्य सभा चुनावों में विपक्ष मजबूत होगा। राज्य सभा में कांग्रेस का गणित गड़बड़ा गया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत और विधायकों की टूट से मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार गिर गई। इससे कांग्रेस के हाथ से मध्य प्रदेश से तय एक सीट भी चली गई है।