8 जून से नहीं खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल! कोरोना संकट के बीच देशभर में 

Spread the love

 
नई दिल्ली 

 देशभर में 8 जून से सभी धार्मिक स्थान नहीं खोले जा सकेंगे. कुछ मंदिरों के कपाट 8 जून को भी बंद ही रहेंगे. मथुरा के सभी बड़े मंदिर और दिल्ली के भी कुछ बड़े 'धाम' के कपाट 8 जून से नहीं खुलेंगे. दिल्ली के प्राचीनतम मंदिरों में से एक यमुना बाजार स्थित मरघट वाले हनुमान जी के रूप में प्रसिद्ध मंदिर के ट्रस्ट ने भी अभी संयम और एहतियात बरतते हुए सुरक्षा और बचाव के सभी उपाय होने तक मंदिर के द्वार न खोलने पर सहमति जताई है.

मरघट वाले श्री हनुमान मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत वरुण शर्मा ने आजतक से बातचीत में कहा कि मंदिर में आने वाले दर्शनार्थी और श्रद्धालु भक्तों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उपाय किए जा रहे हैं. नया फर्श और रेलिंग लगाकर साफ-सफाई की व्यवस्था के भी इंतजाम किए जा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि इससे मंदिर खुलने के साथ ही उमड़ने वाली भीड़ को नियंत्रित और भगवान के दर्शन के इंतजाम में सहायता होगी. इसके अलावा स्थानीय प्रशासन को भी यहां एहतियाती उपाय तय करने होंगे. मंदिर प्रशासन का कहना है कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने पर ही मंदिरों को खोलने की इजाजत दी जाए, नहीं तो कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है.

दर्शन के लिए करना होगा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन
वरुण शर्मा ने कहा, 'मंदिर के बाहर भक्तों की समुचित दूरी बनाते हुए कतार लगेगी. दरवाजे पर सभी की थर्मल स्क्रीनिंग होगी. दर्शन से पहले हाथ सैनिटाइज कराए जाएंगे. भक्तों के बीच उचित दूरी बनाए रखनी होगी. मंदिर में प्रसाद चढ़ाने या बांटने की मनाही होगी.'
 
उन्होंने कहा कि 'नकद भेंट या चढ़ावा की जगह भक्तों की भावना के अनुरूप हनुमानजी को भेंट न्यौछावर अर्पित करने का वैकल्पिक और सुरक्षित इंतजाम करना होगा, तभी दर्शन के लिए मंदिर खोलना उचित रहेगा.'

सारे इंतजाम होंगे पूरे तभी खोले जा सकेंगे मंदिर
मंदिर ट्रस्ट की उपाध्यक्ष सावित्री देवी का भी कहना है कि मंदिर खोलने को लेकर हम प्रशासन को सभी परिस्थितियों से अवगत करा रहे हैं, जिससे ट्रस्ट के साथ प्रशासन को भी सारी हकीकत पता रहे. जैसे ही प्रशासन सारे इंतजाम कर देगा, मंदिर के द्वार दर्शनार्थी श्रद्धालु भक्तों के लिए खोल दिए जाएंगे.