यूरो कप के नॉकआउट दौर में इटली और वेल्स जगह बनाई

Spread the love

रोम
 इटली की टीम ने अपने विजयी अभियान को जारी रखते हुए वेल्स को 1-0 से हराकर यूरो कप के अंतिम-16 यानी नाकआउट चरण में प्रवेश कर लिया। हालांकि हार के बावजूद वेल्स की टीम ने ग्रुप-ए में दूसरे स्थान पर रही और उसने भी नाकआउट चरण में अपनी जगह पक्की की।

इटली की मजबूत टीम ने शुरू से ही वेल्स पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। जिसके चलते इटली की तरफ से 39वें मिनट में मिली फ्री किक में मार्को वेराट्टी बाक्स की तरफ क्रास पास किया और माटेओ पेसिना ने उसे गोल में तब्दील करके टीम को बढ़त दिला दी। इसके बाद दूसरे हाफ में वेल्स ने शानदार शुरुआत की लेकिन उन्हें 55वें मिनट में एक और झटका लगा, जब एथन अम्पाडु फाउल कर बैठे और उन्हें सीधा रेड कार्ड दे दिया गया।

इस तरह 20 साल 279 दिनों में किसी यूरो कप मैच के दौरान सीधे रेस कार्ड पाने वाले वह सबसे युवा खिलाड़ी भी बन गए। इस घटना के बाद वेल्स की टीम को मैच में आगे 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ा और वह एक भी गोल ना कर सकी। जबकि इटली के खिलाड़ी भी अंत तक गोल नहीं कर सके और मैच को 1-0 से अपने नाम करने के बाद नाकआउट चरण में पहुंच गए।

इस जीत के साथ इटली की टीम ग्रुप-ए के तीन मैचों में तीन जीत के साथ नौ अंक लेकर शीर्ष पर आ गई। जबकि वेल्स की टीम तीन मैच में एक जीत, एक हार और एक ड्रा के साथ चार अंक लेकर दूसरे स्थान पर रही। वहीं, अन्य ग्रुप-ए के मैच में स्विट्जरलैंड ने तुर्की को 3-1 से हराया। इस तरह जीत के बाद स्विट्जरलैंड के नाम भी वेल्स के बराबर चार अंक हो गए मगर वह गोल अंतर के कारण वेल्स से पीछे रह गया और तीसरे स्थान पर रहा।