September 21, 2021

तो इसलिए , आमिर खान की ‘रंग दे बसंती’ को ह्रितिक रोशन ने था ठुकराया

Spread the love

फिल्ममेकर राकेश ओमप्रकाश मेहरा की फिल्म 'रंग दे बसंती' काफी कल्ट मूवी रही. आमिर खान के करियर की यह बेस्ट फिल्मों में से एक है. हाल ही में फिल्म के डायरेक्टर ने अपनी ऑटोबायोग्राफी रिलीज की है, जिसका नाम 'द स्ट्रेंजर इन द मिरर' है. इस किताब में राकेश ने बताया कि आमिर खान ने ऋतिक रोशन को करण सिंघानिया का किरदार करने के लिए मनाया था, लेकिन बाद में इस रोल को तमिल एक्टर सिद्धार्थ ने प्ले किया. फिल्म की कास्ट काफी शानदार थी. केवल इतना ही नहीं, इस रोल को ऋतिक रोशन के अलावा फरहान अख्तर और अभिषेक बच्चन को भी ऑपर किया गया था, लेकिन सभी ने इसे करने से इनकार कर दिया जो आखिर में सिद्धार्थ के पास गया और वह खुशी-खुशी इसे करने के लिए राजी हो गए. 

फिल्ममेकर ने कही यह बात

राकेश ओमप्रकाश मेहरा ने लिखा, "उस जमाने के हर मशहूर एक्टर को करण सिंघानिया का रोल ऑफर हुआ था. मैंने पहले इसे रोल को फरहान अख्तर को ऑफर किया. यह वह वक्त था जब फरहान एक्टिंग की दुनिया में नहीं आए थे. वह सबसे यंग डायरेक्टर्स में से एक थे. मैंने जब फरहान को यह रोल ऑफर किया तो वह काफी सरप्राइज्ड रह गए थे. इसके बाद मैंने यह रोल अभिषेक को नेरेट किया. स्टोरीलाइन सुनने के बाद अभिषेक ने कहा कि मुझे लगता था कि आप क्रेजी हो, लेकिन आपसे यह रोल के बारे में सुनने के बाद मुझे लग रहा है कि आप सच में सनकी हो."

राकेश ओमप्रकाश मेहरा ने आगे कहा कि मैंने आमिर खान से रिक्वेस्ट की और कहा कि तुम ऋतिक रोशन को यह रोल ऑफर करके देखो. आमिर उस समय ऋतिक के घर गए. उन्होंने कहा कि यह एक अच्छी फिल्म है, कर ले यार, लेकिन वह राजी नहीं हुए. आखिर में सिद्धार्थ को इसके लिए साइन किया गया. यह बात है जनवरी 2005 की. शूट से एक महीना पहले ही सिद्धार्थ को साइन किया गया. उन्होंने इससे पहले कभी हिंदी फिल्म नहीं की थी. 

राकेश कहते हैं कि शूट से कुछ महीने पहले सिद्धार्थ की एनर्जी और उनके भोलेपन को देखते हुए हमने उन्हें फाइनल किया था. हमने सोचा था कि सिद्धार्थ, करण के किरदार में कुछ तो नयापन लेकर आएंगे. सीनियर एक्टर्स ने फिल्म में छोटी सी भूमिका निभाने के लिए भी हामी भर दी थी. इसमें ओम पुरी, अनुपम खेर, किरण खेर, मोहन अगाशे और के के रैना का नाम शामिल है. सभी क्राफ्ट के महारथी हैं और इनका योगदान फिल्म में शानदार रहा.