September 21, 2021

रवि दहिया की मजबूत पकड़ से छूटने के लिए दांत से काटने लगा पहलवान

Spread the love

तोक्यो
भारत के पहलवान रवि कुमार दहिया ने तोक्यो ओलिंपिक में कुश्ती के पुरुष फ्रीस्टाइल 57 किग्रा भार वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले में कजाखस्तान के नूरइस्लाम सानायेव को हराकर फाइनल में प्रवेश करने के साथ ही भारत के लिए एक और पदक पक्का कर लिया है। रवि ने सेमीफाइनल मुकाबले में नूरइस्लाम को विक्ट्री बाई फॉल के माध्यम से 7-9 से हराया। रवि 2-9 से पिछड़ रहे थे लेकिन यहां से भारतीय पहलवान ने जबरदस्त वापसी की और मुकाबला अपने नाम किया। आखिरी मिनट में उन्होंने कजाख पहलवान के पैरों पर हमला किया और इसके बाद उन्होंने अपनी मजबूत भुजाओं में विपक्षी को जकड़ लिया। इसी समय विपक्षी पहलवान ने पकड़ से छूटने के लिए रवि को काटना शुरू कर दिया, लेकिन हरियाणवी छोरे ने भी जीत की ठान रखी थी। रवि ने अपनी मजबूत ढीली नहीं की और चित करते हुए मुकाबला अपने नाम कर लिया। फोटो में उनकी दाहिनी बांह में काटने के गहरे निशान का खुलासा हुआ। इस मोमेंट की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। लोग सानायेव की आलोचना कर रहे हैं। बात भी सही है। हार सामने देख दांत से काटना कहां से खेल भावना है? रवि ने ओपनिंग बाउट में कोलंबिया के ऑस्कर टाइगरेरोस को 13-2 से हराया था। उन्होंने यह बाउट टेक्निकल सुपेरिओरिटी के जरिए जीती। इसके बाद उन्होंने 1/4 फाइनल मुकाबले में बुल्गारिया के गिओरजी वांगेलोव को 14-4 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।

फाइनल फाइट के लिए फिट हैं रवि
भारतीय कुश्ती टीम के सहयोगी स्टाफ के एक सदस्य ने कहा, ‘रवि जब मैट से लौटे तो यह (बांह में) दर्द कर रहा था लेकिन उन्हें ‘आइस पैक’ दिया गया और वह ठीक हैं। दर्द भी कम हो गया है। वह फाइनल के लिए फिट हैं, कोई समस्या नहीं है।’