बस्तर क्षेत्र में पर्यटन को मिलेगा नया आयाम – बघेल

Spread the love

रायपुर
बस्तर अंचल में पर्यटकों को वैलनेस टूरिज्म की सुविधाएं मिलेंगी। वैलनेस टूरिज्म के तहत बस्तर अंचल में सभी प्रमुख पर्यटन स्थलों में योगा, प्राणायाम, ध्यान, आयुर्वेदिक एवं प्राकृतिक  उपचार, नेचर हीलिंग की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज  जगदलपुर के  थिंक बी स्टार्ट अप सेंटर शुभारंभ के अवसर पर वैलनेस टूरिज्म का भी औपचारिक शुभारंभ किया। वैलनेस टूरिज्म के तहत पर्यटकों को स्वस्थ जीवन शैली के लिए मार्गदर्शन एवं परामर्श भी दिया जायेगा। शारीरिक, मानसिक एवं आत्मिक स्वास्थ्य के गुर भी सिखायें जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैलनेस टूरिज्म के जरिये देश-विदेश के पर्यटक बस्तर अंचल में आने के लिए आकर्षित होंगे। इससे अंचल में पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ लोगों को आय का जरिया भी मिलेगा। बस्तर अंचल में पर्यटन को मिलेगा नया आयाम। उन्होंने इस अवसर पर पर्यटन समिति के सदस्यों को आरोग्यम योगा किट का वितरण किया। योगा किट में योगा मेट, एरोमेटिक आॅयल्स, अगरबत्ती, म्यूजिक सिस्टम, दरी, थर्मल स्कैनर, इंडक्शन कुकर, डिफ्यूजर, ग्लव्स आदि शामिल है।

 गौरतलब है कि पर्यटकों को आकर्षित करने एवं उन्हें हर संभव सुविधाएं उपलब्ध करवाने जिला प्रशासन बस्तर लगातार नित नये प्रयोग किए जा रहे हैं। इसी श्रृंखला के तहत बस्तर में पर्यटकों के लिए मुख्य पर्यटन स्थलों पर वैलनेस टूरिज्म की सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। वैलनेस टूरिज्म का संचालन स्थानीय पर्यटन समितियों के द्वारा योग्य एवं प्रशिक्षित प्रशिक्षकों के सहयोग से किया जाएगा जिससे स्थानीय ग्राम वासियों को भी अच्छी खासी आय प्राप्त होगी।