ट्रेन के डिब्बों और एसी बसों में जल्द लगाए जाएंगे उपकरण, जिनसे हवा में ही खत्म हो जाएगा कोरोना

Spread the love

नई दिल्ली
केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एलान किया है कि वह जल्द ही ट्रेन के डिब्बों और एसी बसों में ऐसी तकनीक लगाएगी, जिससे इनमें कोरोनावायरस का फैलना नामुमकिन हो जाएगा। सरकार का कहना है कि उसकी नई कीटाणुशोधन तकनीक कोरोना के हवा में फैलने से पहले ही इसे खत्म कर देती है। बताया गया है कि ट्रेन और एसी बसों के अलावा इन उपकरणों को बंद जगहों पर भी लगाया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सोमवार को कहा कि वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) जल्द ही चुनाव आयोग (ईसी) को इस तकनीक के बंद जगहों पर इस्तेमाल के लिए पत्र लिखेगा। चूंकि ईसी ने रोड शो और रैलियों पर बैन लगाया है, इसलिए विधानसभा चुनाव में सीमित क्षमता वाली बंद कमरों में होने वाली बैठकों में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस नई कीटाणुशोधन तकनीक का परीक्षण रेलवे कोच और एसी बसों के साथ-साथ संसद सदन में भी किया जा चुका है। अब यह तकनीक आम लोगों के लिए भी उपलब्ध होगी।

मंत्री ने दावा किया कि अल्ट्रावॉयलेट-सी तकनीक को मंत्रालय ने सीएसआईआर के केंद्रीय वैज्ञानिक उपकरण संगठन (CSIO) के जरिए विकसित करवाया है। यह कोविड-19 को हवा में ही खत्म करने में पूरी तरह प्रभावी है। यह कोरोना के बाद के समय में भी कीटाणु खत्म करने में काफी अहम तकनीक साबित होगी।