टीचर ने FB पर रिटायरमेंट की डाली पोस्ट, छात्राओं ने MeToo किया कमेंट , 60 से अधिक गर्ल्स ने दर्ज कराई शिकायत

Spread the love

मलप्पुरम, केरल
 मलप्पुरम के वनिता पुलिस स्टेशन में मंगलवार को एक रिटायर्ड टीचर और माकपा नेता केवी शशिकुमार के खिलाफ छात्राओं के यौन शोषण का मामला दर्ज किया है। सीपीआई (M) के पार्षद पर कई छात्राओं के साथ यौन शोषण का आरोप लगा है। 60 से अधिक गर्ल्स ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि आरोपी पिछले 30 सालों से यह घिनौना काम करता आ रहा था। पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है। आरोपी पहले गायब हो गया था। हालांकि हफ्तेभर बाद अब उसे पकड़ लिया गया है।

सरकार ने दिए जांच के आदेश
मलप्पुरम वनिता पुलिस स्टेशन ने मंगलवार को सरकारी सहायता प्राप्त गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल की एक पूर्व छात्रा की शिकायत के आधार पर यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (POCSO) अधिनियम के तहत FIR दर्ज की है। जब यह मामला दर्ज हुआ, तो दर्जनभर अन्य पूर्व छात्राओं ने अपने स्कूल के दिनों में हुई भयावह घटनाक्रम के बारे में पुलिस को बताया। मामले में पार्टी की बदनामी होने पर माकपा ने आरोपी को सदस्यता से बर्खास्त कर दिया है। पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने के बाद शशिकुमार कथित तौर पर फरार हो गया था। हालांकि उसे दबोच लिया गया। केरल के शिक्षा मंत्री वी शिवनकुट्टी ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं। मंत्री ने लोक शिक्षा निदेशक IAS बाबू के को स्कूल प्रबंधन की खामियों की जांच कर जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिए हैं।

फेसबुक पोस्ट पर टिप्पणी के बाद खुला मामला
मलप्पुरम महिला थाने में पॉक्सो धारा के तहत मामला दर्ज होने के बाद शशिकुमार फरार हो गया था। पुलिस एक सप्ताह बाद उसे गिरफ्तार कर सकी। यह मामला उस समय सामने आया था, जब तीन बार मलप्पुरम नगर पार्षद केवी शशिकुमार ने मार्च 2022 में सेंट गेमास गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल से रिटायरमेंट के बाद फेसबुक पर अंतिम दिन की पोस्ट की थी। इस पोस्ट पर स्कूल की पूर्व छात्राओं में से एक ने फेसबुक पोस्ट पर #MeToo कमेंट किया। उसके बाद कई लड़कियों ने टीचर की पोल खोल दी। शशिकुमार को मंजेरी पोक्सो कोर्ट में पेश किया गया। उसे उसे मुथंगा में होमस्टे(परिचित के घर) से पकड़ गया।