यशस्वी ने 3 रणजी मुकाबले में बनाए 497 रन, टीम इंडिया में दावेदारी

Spread the love

नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट के उभरते सितारे यशस्वी जायसवाल ने घरेलू क्रिकेट में धमाका मचा रखा है। रणजी ट्राफी नाक आउट मुकाबले में इस 20 साल के बल्लेबाज ने लगातार तीसरे मैच में भी दमदार बल्लेबाजी की। बुधवार 22 जून से मध्य प्रदेश के खिलाफ शुरू हुई रणजी ट्राफी फाइनल में टास जीतकर मुंबई ने पहले बल्लेबाजी चुनी। पहले दिन यशस्वी के अर्धशतक से टीम को मजबूती दी।

रणजी ट्राफी में मुंबई के बल्लेबाज यशस्वी का लाजवाब फार्म बरकरार है। क्वार्टर फाइनल, सेमीफाइनल के बाद अब उन्होंने फाइनल में भी पहली पारी में अर्धशतक जमाया है। मुंबई के लिए कप्तान पृथ्वी शा के साथ मिलकर यशस्वी ने टीम को सधी शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले विकेट के लिए 87 रन जोड़े। कप्तान 47 रन की पारी खेलकर आउट हुए। इसके बाद अरमान जारफ और सुवेद पारकर भी जल्दी अपना विकेट गंवा बैठे। यशस्वी ने एक छोर को थामे रखा और स्कोर को आगे बढ़ाया।

यश्स्वी का लगातार तीन शतक
रणजी ट्राफी के बड़े मैच में यशस्वी ने अपने खेल का स्तर और भी बड़ा किया। क्वार्टर फाइनल में उत्तराखंड के खिलाफ 103 रन की पारी खेलने वाले इस खिलाड़ी ने सेमीफाइनल में यूपी के विरुद्ध दोनों पारी में शतक जमाया था। पहली में 100 जबकि दूसरी पारी में यशस्वी ने 181 रन बनाकर टीम के फाइनल की टिकट पक्की की थी। अब फाइनल जैसे महामुकाबले में मुंबई के लिए यशस्वी ने पहली पारी में 78 रन की पारी खेली। 163 गेंद पर 7 चौके और 1 छक्के की मदद से यशस्वी ने 78 रन बनाए।

टीम इंडिया में यशस्वी की दावेदारी
भारतीय टीम के लिए लगातार दरवाजा खटखटा  रहे यशस्वी ने घरेलू क्रिकेट ही नहीं इंडियन प्रीमियर लीग में भी रन बनाए हैं। इस  सीजन में रणजी ट्राफी में यशस्वी ने महज तीन ही मुकाबले में खेला है और 99 की बेमिसाल औसत से 497 रन बनाए हैं। इसमें यूपी के खिलाफ सेमीफाइनल में दूसरी पारी में खेली गई 181 रन की पारी भी शामिल रही। उनके खाते में 3 शतक और 1 शतक है।