स्टारडम हासिल किया और पर्दे से गायब हो गईं टीवी की दुनिया ये ऐक्ट्रेसेस

Spread the love

ग्लैमर वर्ल्ड बाहर से दिखने में जितना खूबसूरत है, अंदर से उतना ही बदसूरत। यहां आने की सभी चाह रखते हैं। लेकिन जाने में भी कुछ को देरी नहीं लगती। वही हाल है कि लक ने साथ दिया तो सितारों की तरह टिमटिमाएंगे। लेकिन अगर तिनके का भी सहारा न मिला तो बुरी तरह डूब जाएंगे। फिल्मों और टीवी का आपको कोई-न-कोई ऐसा कलाकार जरूर याद होगा, जो एक सीरिलय या फिल्म से रातों-रात स्टार तो बन गया लेकिन उसके बाद वह गुमनामी के गलियारे में खो जाता है। जिसका अता-पता शायद ही कभी किसी को चल पाता है।

आज हम आपको ऐसे ही पांच टीवी ऐक्ट्रेसेस के बारे में बताने वाले हैं, जिन्हें पर्दे पर देखकर पहले निगाहें नहीं हटती थीं और अब वही निगाहें उन्हें चारों तरफ खोजने में नहीं थकती हैं। इसमें नौशीन अली सरदार, कांची कॉल, पूनम नरूला, विभा आनंद, शेफाली शर्मा का नाम शामिल है। चलिए बताते हैं कि इन्होंने किन शोज से स्टारडम हासिल किया और कैसे और क्यों पर्दे से गायब हो गईं।

नौशीन अली सरदार
नौशीन अली सरदार 2001 में आए एकता कपूर के सीरियल 'कुसुम' में नजर आई थीं। उस वक्त वह महज 18 साल की थीं। इस सीरियल में उनके किरदार को इतना पसंद किया गया कि वो रातो-रात फेमस हो गईं। घर-घर में उन्हें लोगों ने पसंद किया। लेकिन बाद में उन्हें इसी फेम से परेशानी भी झेलनी पड़ी थी। उन्होंने एक बार कहा था, 'लोग हमेशा सोचते हैं कि मैं कुसुम जैसी दिखूं। लेकिन ये सच नहीं है। मैं जब कुसुम का रोल कर रही थी तब बहुत छोटी थी। सबसे बड़ी बात मुझे अपने रंग को सांवला दिखाने के लिए मेकअप करना पड़ता था। मेरे बाल भूरे रंग के थे और काले बाल दिखाने के लिए मुझे हैवी विग लगाना पड़ता था।' बता दें कि नौशीन ने 'काल चक्र', 'गंगा', 'बींद बनूंगा घोड़ी चढ़ूंगा', 'फियर फैक्टर', 'मिस्टर एंड मिस टीवी' जैसे शोज किए। लेकिन साल 2003 में नौशीन का एक एक्सीडेंट हो गया। जिसके बाद उनका चेहरा बिगड़ गया और उनको सर्जरी करानी पड़ी। उसके बाद से वह लाइमलाइट से दूर हो गईं। वापसी करना चाहती थीं लेकिन उन्हें उस तरह के रोल्स नहीं दिए गए, जैसा वह चाहती थीं।

कांची कॉल
कांची कॉल को पहचान टीवी शो ‘एक लड़की अनजानी सी’से मिली थी। यह शो काफी हिट हुआ था। इसमें इन्होंने अनन्या सचदेव का किरदार निभाया था। इनके अपोजिट इस डेली सोप में शक्ति आनंद दिखाई दिए थे। इसके बाद 'एक ननद की खुशियों की चाबी… मेरी भाभी' में कांची ने श्रद्धा का रोल करके भी घर-घर में अपनी पहचान बनाई थी। लेकिन जब इन्होंने साल 2013 में ब्रेक ले लिया था। फिर कभी इन्होंने पर्दे पर वापसी नहीं की। साल 2011 में ऐक्टर शब्बीर आहलुवालिया से शादी करने के दो साल तक काम किया लेकिन बाद में वह अपनी मैरिड लाइफ में बिजी हो गईं। अब वह सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती हैं। पति और दोनों बच्चों के साथ फोटो-वीडियो शेयर करती रहती हैं।

पूनम नरूला
टीवी सीरियल 'शरारत' और 'कसौटी जिंदगी' से नेम-फेम हासिल कर रातों-रात स्टार बनीं पूनम नरूला भी इन दिनों पर्दे से गायब हैं। हालांकि इन दो शोज के अलावा 'मानो या ना मानो', 'कहीं किसी रोज़', 'कसुम', 'कुटुम्ब' और 'कहानी घर घर की' में भी काम किया। उन्होंने 'नच बलिए 1' में भी पति मनीष गोयल के साथ हिस्सा लिया था। इसमें वह फर्स्ट रनर अप आई थीं। आखिरी बार साल 2010 में वह 'मीठी छूरी नंबर 1' में देखा गया था। इसके बाद उन्होंने एक्टिंग छोड़ दी और अब कहा जाता है कि वह अब वेडिंग प्लानर बन गईं। फिलहाल सोशल मीडिया पर फोटो-वीडियो पोस्ट करती रहती हैं।

विभा आनंद
'बालिका वधू' में सुगना का रोल करने वालीं विभा आनंद भी इन दिनों पर्दे से गायब हैं। उन्हें इस शो ने काफी पहचान दिलाई थी। डरी-सहमी सी सुगना ने विभा को रातों-रात स्टार बना दिया था। इस रोल के लिए उनको कई सारे अवॉर्ड्स भी मिले थे। इस सीरियल के बाद विभा ने जीटीवी के 'श्री' में नेगेटिव रोल किया था। लेकिन ज्यादा कमाल नहीं कर पाईं। विभा ने फिल्मों में भी काम किया है। Isi Life Me और Stoneman Murders जैसी मूवीज में उनको सपोर्टिंग रोल में देखा गया था। पर बात न बनीं। फिर उन्हें महाभारत में सुभद्रा का रोल मिला, जिससे वह एक बार लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाने में सफल रहीं। इसके बाद वह बैक-टू-बैक फिल्में और वेब सीरीज में दमखम दिखा रही हैं।

शेफाली शर्मा
शेफाली शर्मा को 'बानी- इश्क दा कलमा' से खूब पहचान मिली। इसमें उन्होंने लीड रोल निभाया था। और इसमें उन्हें खूब पसंद किया गया था। दर्शकों ने भर-भरकर प्यार भी दिया था। फिर इन्होंने 'तुमसे ऐसे ही रहना', 'दिया और बाती हम', '