बीजेपी के गढ़ वाली सीटों पर कांग्रेस दिखाएगी जोर, ग्वालियर में 26 को बड़ी बाइक रैली

Spread the love

ग्वालियर
विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी दल विभिन्न प्रकार की रणनीति बनाकर आयोजन करने की तैयारी में हैं. कांग्रेस ने सबसे ज्यादा फोकस अब उन सीटों पर करना शुरू कर दिया है, जहां 2018 के चुनाव में बीजेपी जीती थी. ऐसी ही सीट ग्वालियर ग्रामीण है. यहां से जीते भारत सिंह कुशवाह अभी शिवराज सरकार में उद्यानिकी मंत्री हैं. कांग्रेस अपना हाथ से हाथ जोड़ो अभियान यहीं से शुरू करने जा रही है. ये अभियान 26 जनवरी को विशाल तिरंगा निकालकर शक्ति प्रदर्शन के साथ शुरू होगा.

रैली में दो हजार बाइक होंगी : ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा में 26 जनवरी को तिरंगा रैली के साथ हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का शुभारंभ कांग्रेस द्वारा किया जाएगा. कांग्रेस के प्रदेश महासचिव साहब सिंह गुर्जर, कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार और कांग्रेस के जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा ने बताया कि 26 जनवरी को सुबह 10 बजे मोहनपुर से कांग्रेस की बाइक तिरंगा रैली का शुभारंभ होगा. इसमें दो हजार से बाइक पर तिरंगा लेकर लोग निकलेंगे. यह यात्रा ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मार्गों से होते हुए बेहट तक पहुंचेगी.

तिरंगा रैली के साथ हाथ से हाथ जोड़ो अभियान : इस बाइक रैली का शुभारंभ मध्य प्रदेश में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह के मुख्य आतिथ्य में होगा. इसके साथ ही प्रदेश के अन्य वरिष्ठ कांग्रेस नेता भी इस रैली में शामिल होंगे. कांग्रेस का कहना है कि तिरंगा रैली का आयोजन गांव-गांव में तिरंगे की आन, बान व शान और भारत की पहचान पहुंचाने के उद्देश्य से किया जा रहा है. इसके साथ ही हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का शुभारंभ भी ग्वालियर जिले में किया जाएगा. एक और जहां कांग्रेस पार्टी हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा का शुभारंभ करने जा रही है तो वहीं दूसरी और भारतीय जनता पार्टी द्वारा विकास यात्रा निकालने की तैयारी की जा रही है. जब कांग्रेस नेताओं से पूछा गया कि क्या यह उसी के जवाब में निकाली जा रही है तो साहब सिंह गुर्जर ने कहा कि भाजपा की यात्रा छोड़िए, उसे विकास की बात करने का भी अधिकार नहीं है. उन्हें अपनी यात्रा का नाम विनाश यात्रा देना चाहिए. पूरे मध्यप्रदेश में कहीं कोई विकास नहीं हुआ है और भाजपा अपने बचाव में लगी है.