231 वीं वाहिनी की पहल, नक्सलगढ़ में ग्रामीणों के स्वास्थ्य की देखभाल

Spread the love

दंतेवाड़ा/ गीदम

231 वीं वाहिनी द्वारा मंगलवार को छत्तगीसढ़ के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र ग्राम कोण्ड़ापारा, उत्तमपारा, सरपंचपारा में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कर 200 से अधिक ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा दी गई।

अटामीपारा थाना अरनपुर जिला- दंतेवाड़ा के अंतर्गत 231 वीं वाहिनी द्वारा पुलिस महानिरीक्षक छत्तीसगढ़ सेक्टर के दिशा-निदेर्शानुसार, श्री विनय कुमार सिंह, पुलिस उप महानिरीक्षक दंतेवाड़ा के मार्ग दर्शन में श्री सुरेन्द्र सिंह कमाण्ड़ेंट 231 बटालियन के निदेर्शानुसार सिविक एक्शन प्रोग्राम के दौरान गॉंव कोण्ड़ापारा में मेडीकल कैम्प लगाकर गॉंव उत्तमपारा, सरपंचपारा व अटामीपारा के लगभग 200 ग्रामीणों को दवाईयॉं वितरित की तथा मेडीकल कैम्प मे उपस्थित 80 अस्वस्थ बुर्जगों, महिलाओं व बच्चों की चिकित्सा जॉंच कर चिकित्सा अधिकारी द्वारा दवाईयॉं दी गई तथा ग्रामीणों को मानव जीवन में स्वस्थ रहने हेतु स्वास्थ्य संबंधी जानकारी दी।

गइस अवसर पर श्री जयन पी सैमुअल द्वितीय कमान अधिकारी, श्री हरिकेश नाथ, सहायक कमाण्डेंट एवं निरीक्षक पुरूषोत्तम लाल ध्रुव, थाना प्रभारी अरनपुर व गॉंव कोण्ड़ापारा के सरपंच, अन्य अधीनस्थ अधिकारी, जवान तथा स्थानीय नागरिक उपस्थित थें। श्री सुरेन्द्र सिंह कमाण्डेंट 231 बटालियन ने ग्रामीणों को यह संदेश दिया कि ग्रामीणों का स्वास्थ्य हमारे लिए सर्वोपरी है एवं एक स्वस्थ नागरिक ही देश के विकास में सहभागी बन सकता है इसलिए हम अपने क्षेत्र के ग्रामीणों के स्वास्थ्य को और बेहतर बनाने में अपना योगदान देना चाहते है। ग्रामीणों के साथ मिलकर स्वास्थ्य के क्षेत्र में ग्रामीणों की दैनिक आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है और भविष्य में किसी भी प्रकार की समस्या में हम आपके साथ खड़े रहेगें। इस प्रकार के विकासात्मक कार्य से सुरक्षाबलों एवं ग्रामीणों के मध्य रिश्ते और प्रगाढ़ होंगे और विकास एवं शांति की भी राह प्रशस्त होगी। इस अवसर पर उपस्थित सभी ग्रामीणों के लिए शाकाहारी भोजन का भी प्रबंध किया गया था जिससे सभी ग्रामीणों ने बडे चाव से ग्रहण किया और सराहा।